बिहार विधानमंडल में ‘गुनहगार चूहा’ लेकर पहुंचे आरजेडी विधायक

पटना

बिहार विधानमंडल के बजट सत्र के दौरान शुक्रवार को एक अजीब वाकया देखने को मिला। आरजेडी के विधायक सुबोध कुमार राय एक जिंदा चूहे को चूहेदानी में लेकर बिहार विधान परिषद में पहुंच गए। आरजेडी विधायक ने कहा कि बिहार में बांध को खाने वाला, शराब गटकने वाला और अस्पताल में रखे स्लाइन पीने वाला अपराधी चूहा आज पकड़ा गया है।

राय ने कहा कि कहा कि अब राज्‍य की एनडीए सरकार को चाहिए कि इस बदमाश चूहे को कड़ी से कड़ी सजा दे। आरजेडी के साथ चूहे को लेकर इस प्रदर्शन में कांग्रेस के विधान परिषद सदस्य भी शामिल हुए। इस दौरान विधान परिषद के गेट पर काफी देर तक चूहे को लेकर ड्रामा चलता रहा। बता दें कि बिहार विधानसभा के चुनाव सितंबर-अक्टूबर में हो सकते हैं। इसको देखते हुए राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन में वार-पलटवार शुरू हो गया है।

संभवत ऐसा पहली बार हुआ है, जब विधानमंडल सत्र के दौरान कोई विधायक जिंदा चूहा लेकर विधान परिषद पहुंचा। इस बीच पूरे मामले पर राय को पूर्व सीएम राबड़ी देवी का साथ भी मिला। राबड़ी देवी ने कहा कि कुछ साल पहले जल संसाधन विभाग का बांध टूट गया था, तब तत्कालीन मंत्री ललन सिंह ने कहा था कि चूहों की वजह से बांध टूटा है। नीतीश सरकार चूहों पर दोषारोपण करती है, इसलिए सजा दिलाने के लिए आरजेडी के सदस्य चूहा लेकर पहुंचे हैं।


चूहे पहले भी हो चुके हैं राजनीति के शिकार

इससे पहले राबड़ी देवी ने ट्वीट करके चूहे का जिक्र किया था। उन्‍होंने कहा था, ‘चाहे बिहार में बहार आवे, अपराधियन के बोलबाला होखे, शराब चोरी होखो, आ दवाई भ्रष्टाचरियन के भेंट चढ़ जाए, आ ओकरा पर से हजारों करोड़ों के नवनिर्मित डैम टूट जाएं, फलाना हो, ढिमकाना हो, कुछो हो इ नीतीश हमरा के ही दोषी बनईहें।’ गौरतलब है कि बिहार में महागठबंधन और एनडीए के बीच, खासकर जेडीयू और आरजेडी के बीच पोस्टर वार शुरू हो गया है। दोनों ही दल एक-दूसरे को 15 साल का दोषी बता रहे हैं। नीतीश सरकार के खिलाफ राबड़ी देवी ने बिहार में चूहे के कारनामे को लेकर एक और पोस्टर ट्वीट किया था। उन्होंने कहा था कि चूहे बिहार छोड़ें या चूहासन करने वाले छोड़ें?’ राबड़ी के इस ट्वीट के बाद आरजेडी की ओर से पटना के कई स्थान पर कार्टून पोस्टर लगाए गए थे।

admin