शेन वार्न की कंपनी अस्पतालों में बांटेगी हैंड सैनिटाइजर

नई दिल्ली

कोविड-19 के खिलाफ जंग जारी

एक तरह जहां खेल से जुड़े तमाम लोग अपने-अपने फैंस और लोगों को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। वहीं, दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलियाई टीम के दिग्गज गेंदबाज शेन वार्न ने एक बड़ा ऐलान किया है। दरअसल, शेन वार्न की कंपनी अपने यहां के अस्पतालों में हैंड सैनिटाइजर बांटने का काम करेगी, जिससे कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ी जा सके।

शेन वार्न ने ‘सेवन जीरो एट’ नाम की कंपनी बनाई हुई है। इसका नाम वार्न ने अपने करियर में लिए टेस्ट विकेट को याद करते हुए दिया। यही कंपनी अब वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के दो अस्पतालों में हैंड सैनिटाइजर बांटेगी। कंपनी ने मेडिकल ग्रेड के 70 फीसदी अल्कोहल युक्त सैनिटाइजर बनाने का फैसला लिया है। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए 17 मार्च को ही वार्न की कंपनी ने हैंड सैनिटाइजर बनाने का काम शुरू कर दिया है। इस बारे में खुद ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज शेन वार्न ने जानकारी दी है। शेन वार्न ने अपने ट्विटर पर कंपनी की प्रेस रिलीज को शेयर करते हुए लिखा है कि 708 जिन कंपनी पर मुझे गर्व महसूस हो रहा है कि वे ये शानदार काम कर रहे हैं। इससे सभी लोगों को मदद मिलेगी। इससे पहले कंपनी अवॉर्ड विनिंग सेवन जीरो ऐट जिन बना रही थी, लेकिन अब इस काम को बंद करके कंपनी ने हैंड सैनिटाइजर का काम तेज कर दिया है।

गौरतलब है कि भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर फैंस को लगातार सलाह दे रहे हैं कि उन्हें कोरोना वायरस से लड़ने के लिए क्या-क्या करना चाहिए।

सचिन ने कहा… कोरोना के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट जैसा तरीका अपनाएं

कोरोना वायरस के प्रति लोगों को जागरूक करने व इससे बचाव के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज व मौजूदा खिलाड़ी भी आगे आ रहे हैं। सचिन तेंदुलकर ने पहले भी इस वायरस से बचाव के तरीके का जिक्र करते हुए एक वीडियो सबके लिए शेयर किया था। अब एक बार फिर से उन्होंने इससे बचाव के लिए टेस्ट क्रिकेट का हवाला दिया है। सचिन तेंदुलकर ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि कोविड-19 से लड़ने के लिए हमें क्रिकेट के सबसे पुराने तरीके यानी टेस्ट क्रिकेट से सीख लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट आपको धैर्यवान बनाता है। इसमें जब आप पिच या फिर गेंदबाज को सही तरीके से नहीं परख पाते हैं तो रक्षात्मक तरीका अपनाते हैं। इसी तरह से अगर हमें कोरोना से बचाव करना है तो हमें धैर्य रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि क्रिकेट को लेकर ऐसा कुछ होगा मैंने सोचा भी नहीं था। भारत में या फिर विश्व स्तर पर क्रिकेट पूरी तरह से थम सा गया है।

admin