बीमार ‘जमात’… निज़ामुद्दीन के मरकज़ के संक्रमण ने पूरे देश को घेरे में ले लिया

नगर संवाददाता | इंदौर

इंदौर के टाटपट्टी बाखल में डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ पर लोगों ने थूका, पत्थर फेंके

दो दिन पहले रानीपुरा में संक्रमित लोगों के परीक्षण के लिए गई स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ लोगों ने बदसलूकी की और उन पर थूका था। बुधवार को ऐसी ही घटना टाटपट्टी बाखल में हुई। क्वारेंटाइन करने के लिए लोगोंं को ले जाने मेडिकल टीम पहुंची तो रहवासियों ने विरोध किया। लोगों ने मेडिकल स्टाफ के साथ ही पुलिस पर भी पथराव कर दिया। इस मामले में छत्रीपुरा पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। अब उनकी पहचान कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

रानीपुरा के बाद इंदौर में ये दूसरी घटना, ऐसा ही रहा तो इंदौर में 14 तो छोड़ो, बरसों तक ये संक्रमण की चेन टूट नहीं पाएगी

टाटपट्टी बाखल में मरीजों की पॉजिटिव संख्या को बढ़ते देख क्षेत्र को कंटेनमेंट के दायरे में लिया गया है। इसी कड़ी में दोपहर को टीम क्षेत्र में मरीजों खासकर महिलाओं का चेकअप करने पहुंची। टीम ने जैसे ही महिलाओं को बाहर लाने को कहा और अस्पताल में आइसोलेट होने की सलाह दी तो लोग भड़क गए। उन्होंने विरोध किया। वहां लगे बैरिकेड्स भी तोड़ दिए और पथराव कर दिया।

टीम ने समझाने की कोशिश की तो वे मारपीट पर उतारू हो गए। बाद में और पुलिस बल पहुंचा और स्थिति नियंत्रित की। लोगों का कहना था कि किस-किस को ले जाया जा रहा है, हमें पहले इसकी जानकारी दी जाए। पुलिस ने उन्हें समाझाया कि यह आपकी सुरक्षा के लिए ही है।

आगे से ऐसी घटनाएं न हों, इसके लिए सख्त प्लान तैयार कर रहे हैं। बाधा पैदा करने वालों से सख्ती से निपटेंगे। टाटपट्‌टी बाखल मामले में केस दर्ज कर लिया गया है।
-हरिनारायणाचारी मिश्र, डीआईजी, इंदौर

admin