स्पाइसजेट के 12 लाख पैसेंजर का डेटा लीक

नई दिल्ली

आसानी से अंदाजा लगाए जाने वाले पासवर्ड के जरिए सिस्टम को हैक किया गया

देश की निजी क्षेत्र की एयरलाइन स्पाइस जेट के करीब 12 लाख यात्रियों का डेटा लीक हो गया है। एयरलाइन का यह बयान तब आया है जब एक सिक्युरिटी रिसर्चर ने एयरलाइन के सिस्टम में सिक्युरिटी लैप्स को दिखाया। टेक क्रंच वेबसाइट के मुताबिक सिक्युरिटी रिसर्चर ने अपने ऐक्शन को ‘एथिकल हैकिंग’ बताते हुए कहा कि आसानी से अंदाजा लगाए जाने वाले पासवर्ड के जरिए उसने एयरलाइन के सिस्टम को हैक कर लिया।

डेटा, बैकअप फाइल्स में स्टोर था जो कि एनक्रिप्टेड नहीं थी। इस वजह से 12 लाख से ज्यादा लोगों की सूचना को हैक किया जा सका। इस डीटेल में फ्लाइट की सूचना के साथ पैसेंजर का नाम, फोन नंबर, ईमेल ऐड्रेस और जन्मतिथि शामिल है। रिपोर्ट के मुताबिक इस सिक्योरिटी रिसर्चर ने स्पाइसजेट को इस डेटा लीक की जानकारी दी है।

सिक्योरिटी को लेकर चूक की वजह से हुआ

स्पाइसजेट को जानकारी देने के बाद सिक्योरिटी रिसर्चर ने भारत की साइबर क्राइम हैंडल करने वाली सरकारी एजेंसी सीईआरटी को जानकारी दी है। सीईआरएन-इन ने भी यह माना है कि ये सिक्योरिटी को लेकर चूक की वजह से हुआ है। इसके बाद सीईआरएन-इन ने स्पाइसजेट को इसके बारे में बताया। इसके बाद स्पाइसजेट ने डेटाबेस को सिक्योर करने के लिए कदम उठाए हैं।

admin