स्वीडन में दर्ज की गई विश्व में सर्वाधिक मृत्यु दर

स्टॉकहोम

लॉकडाउन न लागू करना बना खतरा

स्वीडन एक बार फिर चर्चाओं में है। पहले लॉकडाउन में ढील की वजह से सुर्खियों में था अब उससे बढ़े कोरोना संक्रमण की वजह से खबरों में है। स्वीडन नाम मात्र का लॉकडाउन लागू किया गया। प्राइमरी स्कूल खुले रहे। बार और रेस्त्रां में लोगों की पूरी चहल-पहल दिखी।
स्वीडन के शीर्ष स्वास्थ्य विशेषज्ञ एंडर्स टेगनेल ने इशारों में यह मान लिया है कि उन्होंने देश में लॉकडाउन नहीं करने की सलाह देकर बड़ी गलती की है। इस गलती से कोरोना के मामले बढ़े।

दरअसल, पिछले एक महीने में दो हफ्ते ऐसा भी हुआ, जब स्वीडन में कोरोना से मौतों की दर दुनिया में सबसे ज्यादा रही। अप्रैल से स्वीडन में मामले तेजी से बढ़ने लगे। स्वीडन में नॉर्वे की तुलना में दोगुनी आबादी है, लेकिन केस की संख्या चौगुनी है। स्वीडन की आबादी करीब एक करोड़ है। यहां कोरोना के 40,803 मामले आए हैं। जबकि इससे 4,542 मौतें हुई हैं। स्वीडन के अन्य पड़ोसी देश डेनमार्क और फिनलैंड में कम लोग संक्रमित हुए और मौतें भी कम हुईं। 7 मई से स्वीडन में हर दिन केसों में बढ़ोतरी हुई है। 3 जून को तो एक दिन में सर्वाधिक 2214 केस दर्ज किए गए। स्वीडन में 24 मई तक दुनिया में कोरोना से प्रति व्यक्ति मृत्यु दर छठे नंबर पर थी। हर दस लाख पर 384, लेकिन पिछले सात दिनों की बात की जाए तो 322 मौतों के साथ, स्वीडन में रोजाना प्रति व्यक्ति 46 लोगों की मौत हो रही है।

दुनिया में 47% है रिकवरी रेट

सबसे पहले बात पूरी दुनिया की। वल्डोमीटर के मुताबिक बुधवार रात 11.45 बजे 65.13 लाख लोग कोविड-19 से संक्रमित हो चुके हैं. इनमें से 3.84 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि, 31.01 लाख लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं। यानी, दुनिया का रिकवरी रेट 47.60% है। यह भारत के रिकवरी रेट (48%) से थोड़ा ही कम है।

8 देशों में 1 लाख से ज्यादा लोग स्वस्थ हुए

दुनिया में ऐसे आठ देश हैं, जहां एक लाख से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव हो चुके हैं। मतलब संक्रमण को हराकर स्वस्थ हो चुके हैं। इन देशों में भारत के अलावा अमेरिका, ब्राजील, रूस, इटली, जर्मनी, तुर्की और ईरान शामिल हैं। इन आठ में से चार देशों में रिकवरी रेट 50% से ज्यादा है। ये चार देश जर्मनी, इटली, तुर्की और ईरान हैं। जर्मनी का रिकवरी रेट 90%, तुर्की का 78% और ईरान का 77% है। अमेरिका का रिकवरी रेट 34% ब्राजील का 45% और रूस का 45% है।

57 देशों का रिकवरी रेट 50% से बेहतर : कोविड-19 के सबसे अधिक केस के मामले में टॉप-100 में आने वाले 57 देशों में रिकवरी रेट 50% से ज्यादा है। जबकि, 60 देशों का रिकवरी रेट 48.50% से ज्यादा है. टॉप-100 में शामिल ब्रिटेन, स्पेन, नीदरलैंड और स्वीडन अपने देश के रिकवरी रेट की जानकारी सार्वजनिक नहीं कर रहे हैं। टॉप 96 देशों में से 57 में रिकवरी रेट 50% से ज्यादा है।

admin