टीम इंडिया की विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में जगह बनाने पर रहेगी नजर, जीतना होगा दो मैच

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला चेन्नई के चेपॉक मैदान में खेला जा रहा है। दोनों टीमों की निगाहें वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के फाइनल में जगह बनाने पर टिकी होंगी। ऑस्ट्रेलिया का साउथ अफ्रीका दौरा स्थगित होते ही न्यूजीलैंड ने टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ली है। फाइनल की दूसरी टीम के लिए अब भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया दावेदार हैं। 18 जून को लॉर्ड्स के मैदान पर टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेला जाएगा।

अगर भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज ड्रॉ होती है तो ऑस्ट्रेलिया फाइनल में पहुंच जाएगा। टीम इंडिया को अगर फाइनल में पहुंचना है तो उसे हर हाल में चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 2 टेस्ट जीतने होंगे। भारतीय टीम अगर 1-0 से भी जीतती है तो वह फाइनल के दौड़ बाहर हो जाएगी। अगर भारत 2-1 से भी टेस्ट सीरीज जीतता है तब भी वो फाइनल खेलेगा। अगर इंग्लैंड 1-0, 2-0 या 2-1 से सीरीज जीत हासिल करता है तो ऑस्ट्रेलिया वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच सकता है।

इंग्लैंड को फाइनल में पहुंचने के लिए भारत को टेस्ट सीरीज में 3-0, 3-1, या 4-0 से मात दी देनी होगी। हालांकि भारत को उसके पिचों इतने बड़े अंतर से हराना लगभग असंभव है। टीम इंडिया 71.7 फीसदी जीत प्रतिशत अंक के साथ पहले नंबर पर है। न्यूजीलैंड के वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में 420 अंक हैं और उसका जीत प्रतिशत अंक 70 फीसदी है। दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया 332 अंक और 69.2% के जीत प्रतिशत अंक के साथ तीसरे नंबर पर है और साउथ अफ्रीका दौरा स्थगित होते ही अब वो भी कोई टेस्ट सीरीज नहीं खेलेगी, हालांकि वो अब भी रेस में है। इंग्लैंड की टीम चौथे नंबर पर है।

admin