टेस्ला की इलेक्ट्रिक भारत में जल्‍द होगी लांच, जानें क्‍या होगा खास

भारत में टेस्ला की एंट्री पक्की होने के बाद लगातर कई तरह की खबरें आ रही हैं, जिनमें कुछ लोग टेस्ला की गाड़ियों का इंतजार कर रहे हैं, तो कुछ इन्हें भारतीय सड़कों के हिसाब से उचित नहीं बता रहे हैं। हाल ही में टेस्ला की लोकप्रिय स्पोर्ट्स कार रोडस्टर को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। जानकारी के लिए बता दें, रोडस्टर को 2012 में बंद कर दिया गया था। इस कार का उत्पादन 2008 से 2012 तक इलेक्ट्रिक कार फर्म टेस्ला द्वारा किया गया था।

Tesla Roadster मूल रूप से लोटस एलीस चेसिस पर आधारित थी। रोडस्टर लिथियम आयन का उपयोग करने वाली पहला हाईवे लीगल सीरियल प्रोडक्शन ऑल-इलेक्ट्रिक कार भी थी। जिसका नई जेनरेशन मॉडल आखिरकार एक दशक बाद लॉन्च किया जा सकता है। टेस्ला ने पहली बार 2017 के अंत में रोडस्टर की दूसरी पीढ़ी के संस्करण की घोषणा की थी, और एलन मस्क ने दावा किया था कि कार 2020 में उत्पादन में जाएगी।

हालांकि, उत्पादन शुरू होने में देरी हो रही है, और अब मस्क ने ट्विटर द्वारा बताया कि रोडस्टर का उत्पादन अगले साल तक शुरू होने के लिए निर्धारित नहीं है। मस्क के मुताबिक, टेस्ला रोडस्टर में ट्रिपल इलेक्ट्रिक ड्राइव सिस्टम होगा, जिसमें आगे की तरफ एक इलेक्ट्रिक मोटर होगी। जिसके जरिए यह कार केवल 1.9 सेकंड में 0 से 60 तक चलने में सक्षम होगी। यह रोडस्टर को पूरी दुनिया में सबसे तेज गति से चलने वाली उत्पादन कार बनने में मदद करेगा।

टेस्ला ने हाल ही में वर्ष 2021 के लिए अपनी प्रमुख कार मॉडल एस(Model S) को अपडेट किया है। कार को अब प्लेड नामक एक नए वेरिएंट के साथ पेश किया जा रहा है। जो 0 – 60 मील प्रति घंटे केवल 1.99 सेकंड में पकड़ती है। जिसके चलते यह वर्तमान में सबसे तेज गति से चलने वाली उत्पादन कार बन गई है।

admin