जिस अभिनेता के पास कहानियों का भंडार होता था आज वो सबको ब्लैंक छोड़ गया

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। 

ये वक़्त वाकई बहुत बुरा है। हम घरों में बंद हैं वहां हमारे एक से एक नायाब सितारे टूटते जा रहे हैं। अभी इरफान के जाने का दुःख संभला ही नहीं था तब तक ऋषि कपूर हॉस्पिटलाइज़्ड हो गए और आज सुबह उनकी मौत की खबर से दिन की शुरुआत हुई।

एक सितारा और टूट गया

भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के लिए ये हफ्ता एक बुरे सपने की तरह चल रहा है। बुधवार को ही ऋषि कपूर को मुंबई के एक अस्पताल में आईसीयू में भर्ती करवाया गया था और गुरुवार को वह दुनिया छोड़ कर चले गए। ऋषि कपूर 67 साल के थे और कैंसर से पीड़ित थे। वह एक साल तक अमेरिका के न्यूयॉर्क में इलाज कराकर पिछले साल भारत लौटे थे।

ऋषि कपूर के दोस्त, रिश्तेदार और सुपरस्टार अमिताभ बच्चन ने गुरुवार को ट्वीट कर ऋषि कपूर के निधन की जानकारी दी। उन्होंने लिखा, ‘वो गया। ऋषि कपूर गए। अभी उनका निधन हुआ। मैं टूट गया हूं।’

ऋषि कपूर को मुंबई के सर एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह ठीक होने के बाद सितंबर 2019 में भारत लौटे हैं। भारत में वापसी के बाद भी कपूर का स्वास्थ्य अक्सर ध्यान में रहा है। अभिनेता को फरवरी में त्वरित जांच के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके स्वास्थ्य के बारे में अटकलों के बीच जब वह दिल्ली दौरे पर थे तब उन्हें फरवरी की शुरुआत में यहां के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

परिवार को कहा हंसते रहो

हम सबके प्‍यार ऋषि कपूर दो सालों तक ल्‍यूकेमिया से लड़ने के बाद आज सुबह 8.45 बजे अस्‍पताल में हम सब को छोड़कर चले गए। डॉक्‍टरों और मेडिकल स्‍टाफ का कहना है कि वह आखिर तक सभी का मनोरंजन करते रहे थे। वह कैंसर से चल रही लड़ाई के दो सालों में हमेशा दृढ़ निश्‍चय और जिंदादिल रहे थे। परिवार, दोस्‍त, खाना और फिल्‍में हमेशा उनके ध्‍यान में रही थीं और जो भी उनसे मिलता था ये देखकर दंग था कि आखिर वह इस बीमारी से जूझते हुए भी इस बीमारी को खुद पर हावी नहीं होने देते।

वह पूरी दुनिया से अपने फैंस के की तरफ से भेजे गए प्‍यार से अभिभूत थे। उनके इन आखिरी दिनों में हमें एक ही बात समझ आई कि वह चाहते हैं कि हम उन्‍हें हमेशा हंसते हुए और मुस्‍कुराहट के साथ ही याद रखें न कि आंसुओं के साथ। साथ ही हम समझते हैं कि पूरी दुनिया एक भयानक संकट से जूझ रही है। ऐसे में कई तरह की पाबंदियां हैं। हम उनके सभी फैंस और चाहने वालों से बस यही प्रार्थना करते हैं कि वह इस समय में भी नियमों के पालन का ध्‍यान रखें और जो पाबंदियां लगी हैं उन्‍हें समझें। वह भी ऐसा ही चाहते होंगे।

पीएम ने भी याद किया ऋषि के साथ मुलाकात के पल

पीएम ने ट्वीट कर कहा, ‘बहुआयामी, प्रिय और जीवंत ऋषि कपूर जी। वह प्रतिभा के पावरहाउस थे। मैं हमेशा उनके साथ मुलाकात को याद करूंगा। फिल्मों और देश की प्रगति के लिए उनमें पैशन था। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।’

admin