ट्रिपलिंग फेम एक्ट्रेस ने कहा डायरेक्टर ने ऑफर किया था तीन गुना पैसे ‘कोम्प्रोमाइज़’करने के लिए

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

अच्छा कुछ बातें हैं जिनको लेकर हमारी मानसिकता एकदम जड़ हो चुकी हैं। फ़िल्म जगत की बात तो छोड़ ही दीजिए आम जिंदगी में भी लड़की होने का हमें खूब फ़ायदा मिलता है पता है कैसे? पढ़ने से लेकर नौकरी ढूंढने निकलते वक़्त हमें रास्ते में ही कई ऑफर मिल जाते हैं जैसे ‘चल तुझे जन्नत की सैर कराता हूँ’, ‘अरे नौकरी क्या करना एक बार हमें मौका दे दे’
फिर भी हम गधी लड़कियां पढ़ने और नौकरी करने पहुंच जातीं हैं।

अब वहां पहुंचने के बाद भी तमाम ऑफर फाइल में परोसकर हमारे सामने सरका दिया जाता है। बॉस को इंटरव्यू में दिए जा रहे जवाब से ज्यादा सामने के दो बटनों पर ध्यान रहता है। जब आपके काबिलियत को केवल ये बोल कर नवाज़ दिया जाता है ‘अरे यार तुम तो लड़की हो तुम्हारे लिए सबकुछ इज़ी है।’ लेकिन सच मानिए लड़कियों के लिए बहुत ही आसान होता है नौकरी और पढ़ाई करना।

खैर ये तो रही आम जिंदगी वाली लड़कियों की कहानी अब बात करते हैं सेलेब्स की अभी हाल ही में मानवी ने अपने एक साल पुराने एक्सपीरियंस के बारे में बताया है। 

कास्टिंग काउच की बातें कहीं ना कहीं से सामने आ ही जाती हैं। इस बार फ़िल्मों में काम कर चुकी और वेब सीरीज़ के लिए फेमस मानवी गगरू ने अपनी आपबीती के बारे में लोगों को बताया है।

एंटरटेनमेंट वेबसाइट कोईमोई को दिए इंटरव्यू में मानवी ने इस बात का खुलासा किया। उन्होंने कहा, “एक साल पहले एक आदमी का फोन आया। उसे मैं नहीं जानती थी। उसने कहा कि हम एक वेब सीरीज़ बना रहे हैं। आपको कास्ट करना चाहते हैं। उन्होंने मुझे अपना बज़ट भी बताया। मैंने कहा कि नहीं यार, यह बहुत कम है। हालांकि, आप मुझसे बज़ट के बारे में क्यों बात कर रहे हैं?  पहले आप मुझे स्क्रिप्ट दिखाइए, अगर मुझे पसंद आई, तो आगे बात करेंगे। उसने पूछा कि क्या आप इस बज़ट पर तैयार हैं। मैंने ना कर दिया। फिर उसने बज़ट तीन गुना बढ़ा दिया। उसने कहा, ‘मैं आपको इतना पैसा दे सकता हूं, लेकिन आपको कॉम्प्रो (कॉम्प्रोमाइज) करना पड़ेगा।”

मानवी ने आगे बताया कि इसके बाद मुझे गुस्सा आ गया। मनावी कहती हैं,’ये कॉम्प्रो शब्द जैसे मैं  7-8 साल बाद सुन रही थी। मैंने उस पर चिल्लाते हुए कहा कि फोन रखो। तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई? मैं पुलिस को बता रही हूं।’ मानवी ने कहा कि मीटू वाले इस दौर में इस तरह की बातें परेशान करती हैं। 

दिल्ली की रहने वाली हैं। कॉलेज तक की पढ़ाई यहीं से हुई है फिर एक्टिंग में एंट्री ली। डिजनी चैनल में 2007 में आने वाले ‘धूम मचाओ धूम’ सीरियल में काम किया उसके बाद से कई फिल्मों छोटे-बड़े रोल करती रहीं। 2011 में आई ‘नो वन किल्ड जेसिका’ में रिपोर्टर बनी थीं। टीवीएफ की ‘ट्रिपलिंग’ सीरीज़ में लीड रोल में थीं, इसका पहला सीज़न 2016 में आया था, दूसरा 2019 में। ‘पिचर्स’ में भी काम किया है। एमेजन की ‘फोर मोर शॉट्स प्लीज़’ सीरीज़ में भी लीड रोल में रहीं। पिछले साल आई ‘उजड़ा चमन’ फिल्म में भी लीड रोल में थीं। ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ में भी हीरो की बहन बनी थीं।


admin