सबूत हैं कि ‘डील’ में शामिल थे पायलट

जयपुर

राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत का दावा

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहली बार सचिन पायलट पर सीधा हमला बोला है। बुधवार को गहलोत ने कहा कि मेरी सरकार को गिराने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त (हॉर्स ट्रेडिंग) के प्रयास हो रहे थे और मेरे पास इसके सबूत हैं। गहलोत ने पायलट का नाम लिए बिना दावा किया कि वह सीधे तौर पर भाजपा के साथ विधायकों की खरीद-फरोख्त में शामिल थे।

पायलट के खिलाफ हमलावर होते हुए गहलोत ने कहा, ‘‘सफाई कौन दे रहे थे…सफाई वही नेता दे रहे थे जो खुद षडयंत्र में शामिल थे…षड्यंत्र का हिस्सा थे। हमारे यहां पर उपमुख्यमंत्री हो, पीसीसी अध्यक्ष हो वो खुद ही अगर डील करें…वो सफाई दे रहे है कि हमारे यहां कोई हॉर्स ट्रेडिंग नहीं हो रही थी…अरे तुम तो खुद षड्यंत्र में शामिल थे।’’

गहलोत ने कहा, ‘‘हॉर्स ट्रेडिंग की गई है, हमारे पास सबूत हैं, हमारे पास प्रूफ है कि उनके दलाल लोग थे जिन्होंने यह काम किया। पैसे की पेशकश कर रहे थे। कई लोगों ने पैसा लिया नहीं है ये सबूत मेरे पास में है।’’ गहलोत ने कहा कि हम लोगों की अपने समय में युवा कांग्रेस और एनएसयूआई में खूब रगड़ाई हुई थी इसलिए 40 साल बाद भी हम जिंदा हैं। इनकी रगड़ाई नहीं हुई इसलिये इन्हें अब तकलीफ हो रही है।

मैं भाजपा में नहीं जाऊंगा : सचिन

नई दिल्ली। राजस्थान के उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद सचिन पायलट ने बुधवार को कहा कि वह भाजपा में शामिल नहीं हो रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि राजस्थान में कुछ नेता उनके भाजपा में जाने की अफवाहों हवा दे रहे हैं ताकि उनकी छवि धूमिल की जा सके। पायलट ने कहा, ‘‘मैंने कांग्रेस को राजस्थान की सत्ता में वापस लाने और भाजपा को हराने के लिए बहुत मेहनत की है।’’माना जा रहा है कि पायलट जल्द ही अपने अगले कदम के बारे में कोई निर्णय करेंगे।

 

admin