इस बार 21 जुलाई से 3 अगस्त ही चलेगी अमरनाथ यात्रा

नई दिल्ली

पहली बार आरती का होगा देशभर में लाइव टेलीकास्ट

अमरनाथ यात्रा 2020 की शुरुआत 21 जुलाई से होने जा रही है। हालांकि कोरोना के चलते इस बार यात्रा की अवधि में कटौती की गई है और यह अब सिर्फ 15 दिन (21 जुलाई से 3 अगस्त) तक ही चलेगी। पहली बार गुफा में की जाने वाली ‘आरती’ का सीधा प्रसारण किया जाएगा। बता दें कि पिछले साल सरकार ने सुरक्षा खतरे को देखते हुए यात्रा रद्द कर दी थी। सरकार ने एक एडवाइजरी जारी की थी जिसमें कहा गया था कि 3 अगस्त को पर्यटकों और पर्यटकों को कश्मीर छोड़ना होगा। 5 अगस्त 2019 को कश्मीर को धारा 370 के निरस्त होने के बाद इसे बंद कर दिया गया था। इन 15 दिनों के दौरान सुबह और शाम अमरनाथ शिवलिंग की किए जाने वाली ‘आरती’ का देश भर के भक्तों के लिए सीधा प्रसारण किया जाएगा।

अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देश इस प्रकार हैं…

साधुओं को छोड़कर अन्य तीर्थयात्रियों में 55 वर्ष से कम उम्र के लोगों को ही अनुमति दी जाएगी। अमरनाथ की यात्रा करने वाले सभी लोगों की कोरोना की जांच करवाना अनिवार्य है, इसके बाद ही इन्हे यात्रा शुरू करने की इजाजत दी जाएगी। सभी तीर्थयात्रियों को यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा।

बालटाल मार्ग से होकर निकलेगी यात्रा

स्थानीय मजदूरों की कमी और बेस कैंप से गुफा मंदिर तक ट्रैक में कठिनाइयों के चलते हेलीकॉप्टर का उपयोग होगा यात्रा केवल उत्तरी कश्मीर बालटाल मार्ग से होकर निकलेगी। इस वर्ष किसी भी तीर्थयात्री को पहलगाम मार्ग के माध्यम से यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। समापन 3 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा पर होगा।

admin