कल है माघ पूर्णिमा का पर्व, इस दिन करें ये उपाय, आर्थिक स्थिति होगी मजबूत

कल यानि 27 फरवरी, 2021 को है माघ पूर्णिमा (Magha Purnima) और आपको बता दें कि माघ मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा (Magha Purnima) तिथि को माघी पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सालभर में आने वाली तमाम पूर्णिमा तिथियो में से इस अधिक महत्वपूर्ण माना जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जितना आवश्यक इस दिन दान-स्नान आदि करना होता है उतना ही आवश्यक होता है इस दिन देवी लक्ष्मी की भी पूजा करना। तो आइए आपको बताते हैं माघ पूर्णिमा के दिन देवी लक्ष्मी से जुड़े कौन से उपाय करने से जातक को धन संबंधी परेशानियां नहीं होती।

मां लक्ष्‍मी को ऐसे करें प्रसन्न
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार माघ पूर्णिमा (Magha Purnima) के दिन देवी लक्ष्मी की विधि पूर्वक पूजा करने से जातक तो अच्छे फल प्राप्त होते हैं। इसके अलावा देवी लक्ष्मी को खुश करने के लिए महिलाओं का हमेशा सम्मान करना चाहिए। जो व्यक्ति महिलाओं को अपमानित करता है उसके जीवन में धन संबंधी परेशानियों के अलावा भी कई मुसीबतें पैदा होती हैं। धार्मिक ग्रंथों में महिलाओं को लज्जा, दया, क्षमा, करुणा और ममता से पूर्ण बताया गया है। यही कारण है कि कहा जाता है कि जिस घर में महिलाएं को आदर सम्मान नहीं दिया जाता, वहां लक्ष्मी का वास कभी नहीं होता। क्योंकि महिलाएं घर की गृहलक्ष्मी कहलाती हैं।

इसके अलावा देवी लक्ष्मी (Goddess Lakshmi) को प्रसन्न करने के लिए प्रातः काल उठकर देवी लक्ष्मी के नाम का स्मरण करना चाहिए। फिर स्नान आदि करने के बाद देवी लक्ष्मी की पूजा करें। जिस दौरान सबसे पहले देवी श्रीसूक्त का पाठ करें। देवी लक्ष्मी यंत्र (Lakshmi Yantra) की स्थापना करके विधि वत तरीके से उनकी पूजा करें।

इसके अलावा शाम के समय घर के बाहर शुद्ध देसी घी का दीपक जलाएं। किंवदंतियों के अनुसार शुक्रवार के दिन गजलक्ष्मी मां की उपासना करनी भी प्रभावशाली मानी जाती है।

पूर्णिमा तिथि के दिन पीपल को जल चढ़ाएं और गरीब लड़कियों को उनकी मनपसंद चीजें खिलाएं और उपहार प्रदान करें।

नोट– उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

admin