अमृतसर में शुरू हुई ‘ट्री एंबुलेंस’ सेवा, पेड़-पौधों का होगा इलाज

अमृतसर। अक्‍सर आपने इंसानों और जानवरों के अस्पतालों और एंबुलेंस के बारे में सुना और देखा होगा, और इन्‍हें एम्‍बुलेंस के जरिए ले जाते हुए भी देखा होगा, लेकिन आज आपको हम एक अनोखे अस्पताल और एंबुलेंस के बारे में बताएंगे। हाल ही में देश में ही अब पेड़ों का अस्‍पताल भी बन गया है। साथ ही इन पेड़-पौधों को इस अस्‍पताल तक पहुंचाने के लिए ट्री एंबुलेंस सेवा (Tree Ambulance Service) भी शुरू की गई है। पंजाब के शहर अमृतसर में। शहर में खोला गया यह अस्‍पताल अब पेड़ और पौधों का इलाज करेगा। जानकारी के अनुसार इस अस्‍पताल में पेड़-पौधों की करीब 32 बीमारियों का इलाज तुरंत इमरजेंसी के जरिए किया जाएगा।

बताया जा रहा है कि यह अस्पताल अपने आप में नायाब है और पर्यावरण संरक्षण की प्रेरणा भी देता है। यह अनूठी शुरुआत आईआरएस अधिकारी रोहित मेहरा ने की है। उनका कहना है कि पेड़-पौधे जब बीमार पड़ें तो उन्हें उखाड़कर न फेंके, क्योंकि उनका इलाज हो सकता है। 

आयुर्वेद को आधार बनाकर पौधों का इलाज किया जाएगा। इसी उद्देश्य से भारतीय राजस्व अधिकारी (आईआरएस) रोहित मेहरा ने देश की पहली ‘ट्री एंबुलेंस’ शुरू की है। रोहित मेहरा के अनुसार पेड़ों को पुनर्जीवित करने के लिए ट्री एंबुलेंस में ऐसे विशेषज्ञों की टीम बनाई गई है, जो पौधों की बीमारियों के इलाज में सक्षम है। ट्री एंबुलेंस में आठ बोटनिस्ट और पांच साइंटिस्ट शामिल हैं। इसमें 32 तरह की अलग-अलग बीमारियों को ठीक करने की व्यवस्था है। जिन लोगों ने अपने घरों या पार्कों में बड़े-बड़े पेड़ लगाए हैं, उन्हें पेड़ों की देखभाल के लिए आगे आना होगा। बकायदा ट्री एंबुलेंस की मदद चाहेगाउसे मोबाइल नंबर 8968339411 पर सूचित करना होगा। इसके बाद गठित की विशेषज्ञों की टीम मौके पर जाएगी और निरीक्षण के बाद इलाज शुरू होगा। यह सारा काम फ्री किया जाएगा। रोहित मेहरा का कहना है कि ट्री एंबुलेंस को ‘पुष्पा ट्री एंड प्लांट हॉस्पिटल एंड डिस्पेंसरी’ का नाम दिया गया है। यह एंबुलेंस शहर में घूमेगी।

admin