पाक में आटे की किल्लत सरकार को अल्टीमेटम

इस्लामाबाद

होटल संचालक आज से हड़ताल पर

पाकिस्तान में पिछले दिनों टमाटर की कमी के बाद अब एक नया संकट आ खड़ा हुआ है। देश भर में गेहूं के आटे की किल्लत पैदा हो गई है और फिलहाल इमरान खान सरकार पर इसका कोई हल नजर नहीं आ रहा। पाकिस्तान के अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को ही इमरान खान ने राज्य सरकारों को खाने की बढ़ती कीमतों और जमाखोरी पर लगाम कसने का आदेश दिया था।

खैबर पख्तूनख्वा में ढाबे और रेस्तरां के मालिकों ने सोमवार से हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है। रेस्तरां संचालकों की एसोसिएशन ने सरकार से कहा है कि वह पुराने रेट पर आटा मुहैया कराए या फिर उन्हें नान और रोटी की कीमतों को बढ़ाने की इजाजत दे। उन्होंने इमरान खान सरकार को आटे की कीमतें कम करने के लिए 5 दिनों का अल्टिमेटम दिया है। पाकिस्तान के चारों सूबे और इमरान की संघीय सरकार इस मसले का कोई हल निकालने की बजाय एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं।

सिंध प्रांत ने सरकार को ठहराया जिम्मेदार

हालांकि सिंध प्रांत ने इस संकट के लिए इमरान सरकार को जिम्मेदार ठहराया है और कहा कि इसके चलते ही आटे की कीमतों में इजाफा हुआ है। इस बीच पाकिस्तान के नेशनल फूड सिक्यॉरिटी के सचिव हाशिम पोपलजई ने कहा कि पिछले दिनों हुई ट्रांसपोर्टर्स की स्ट्राइक के चलते कीमतों में इजाफा हुआ। उन्होंने कहा कि इस हड़ताल के चलते गेहूं मिलों तक समय पर नहीं पहुंचा और इसके चलते महंगाई में इजाफा हुआ और आटे की किल्लत पैदा हो गई। हालांकि उन्होंने कहा कि यह समस्या कुछ ही दिनों में हल हो जाएगी।

admin