कोरोना वायरस से बचने के लिए बांटे गए ‘मोदी मास्क’ पर हो रहा बवाल

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। कोरोना वायरस ने अब भारत में भी दस्तक दे दी है और धीरे-धीरे इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में वृद्धि होती जा रही है। वायरस को लेकर लोगों में दहशत भी फैल गई है। इस बीच पश्चिम बंगाल में कोरोना को लेकर राजनीति भी जोर पकड़ती जा रही है और लोगों में जो मास्क बांटे जा रहे हैं जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जिक्र किया गया है।

कोलकाता में पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई के स्थानीय नेताओं ने लोगों में ऐसे मास्क बांटे हैं जिन पर लिखा हुआ है, ‘कोरोना वायरस के इंफेक्शन से बचिए।’ ऐसे मास्क कई लोगों में बांटे गए हैं। इसकी गुणवत्ता पर सवाल उठ रहे हैं।

मास्क बांटने वाले लोग अपने हाथों से लोगों को मास्क भी पहना भी रहे हैं। इस मास्क पर ‘सेव फ्रॉम कोरोना वायरस इनफेक्शन’ के साथ ही ‘मोदी जी’ भी लिखा है। मास्क पर कमल का फूल भी बना है। हालांकि मास्क की गुणवत्ता स्वीकृत मानदंडों के अनुकूल है या नहीं ये कहना मुश्किल है।

इस मुद्दे पर प्रदेश बीजेपी नेतृत्व भी अधिकारिक रूप से बोलने से बच रही है। लेकिन ऑफ द रिकॉर्ड उनका कहना है कि इस तरह के मास्क बांटे जाने में कुछ भी गलत नहीं है। उनका कहना है कि, कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है उसकी रक्षा के लिए हम ये मास्क लोगों में बांट रहे हैं। प्रधानमंत्री जी ने जो प्रेरणा दी है उसी के आधार पर ये मास्क बांटे जा रहे हैं।

वहीं पश्चिम बंगाल सरकार ने भी कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी कर रखा है। लेकिन ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर कोरोना को लेकर सियासत करने का आरोप लगाया है। ममता बनर्जी लगातार यह आरोप लगा रही है कि दिल्ली हिंसा की खबर को दबाने के लिए कोरोना की खबर को जबरन अहमियत दी जा रही है। कोरोना वायरस के भारत में फैलते देखकर कई राज्यों की सरकारें सतर्क हो चुकी हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी सहित अमित शाह, सीएम योगी आदित्यनाथ और दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने एलान किया है कि अबकी बार वो किसी भी होली मिलन समारोह में हिस्सा नहीं लेंगे। इसके साथ ही राष्ट्रपति भवन में भी होली मिलन कार्यक्रम नहीं होगा।

वहीं सरकार की तैयारियों का जिक्र करते हुए केन्द्रीय स्वास्थ मंत्री हर्षवर्धन सिंह ने कहा, “15 लेबोरेटरी पहले स्टेबलिश हो चुकी थी। अभी 19 और लैब स्टेबलिश किया है, यानी टोटल 34 लैब हैं। वहीं ईरान से भारत आने वालों के लिए ईरान में लैब बनाने के लिए आज सामान भेजा जाएगा और इस मुद्दे पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक भी होगी।”

admin