जीत की पटरी पर लौटी मुम्बई, ब्लास्टर्स को 2-1 से हराया

गोवा। मुम्बई सिटी एफसी जीत की पटरी पर लौट आई है। उसने बोम्बोलिम के जीएमसी स्टेडियम में बुधवार को खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन के 81वें मिनट में केरला ब्लास्टर्स को 2-1 से हरा दिया। अपने पिछले मैच में मुम्बई को नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी से 2-1 से हार मिली थी। यह हार 12 मैचों के बाद आई थी।

अब मुम्बई अपने 15वें मैच में कुल 10वीं जीत हासिल कर 33 अंकों के साथ 11 टीमों की तालिका में शीर्ष पर अपनी स्थिति काफी मजबूत कर ली है। दूसरी ओर, ब्लास्टर्स को 16 मैचों में सातवीं हार का सामना करना पड़ा। ब्लास्टर्स के 15 अंक हैं और वह तालिका में नौवें स्थान पर है। भारत के इंटरनेशनल खिलाड़ी सहल अब्दुल समद द्वारा लिए गए कार्नर किक पर विंसेंट गोमेज ने 27वें मिनट में गोल करते हुए ब्लास्टर्स को 1-0 की लीड दिलाई, जिसे उसने पहले हाफ की समाप्ति तक बरकरार भी रखा।

मुम्बई जैसी मजबूत टीम के खिलाफ 65 के मुकाबले 35 फीसदी बाल पजेशन के बावजूद ब्लास्टर्स ने अपना क्लास दिखाते हुए पहले तो लीड हासिल की और फिर उसे बनाए भी रखा। इस हाफ में बेशक गेंद पर कब्जे के मामले में मुम्बई का वर्चस्व रहा लेकिन लगातार हमले कर पांच कार्नर हासिल करने वाली ब्लास्टर्स ने एक पर गोल करते हुए मुम्बई की मजबूत रक्षापंक्ति को भेदने में सफलता हासिल की। मैच का पहला बड़ा मौका हालांकि मुम्बई के हिस्से 11वें और फिर 15वें मिनट में आया था लेकिन दोनों ही मौकों पर एडम लाफोंड्रे के कमजोर शाट के कारण ये स्वर्णिम मौके टेबल टापर्स के हाथों से निकल गए।

मुम्बई ने 25वें मिनट में भी एक अच्छा मूव बनाया था लेकिन युवा राहुल केपी की मुस्तैदी कारण ब्लास्टर्स इस हमले को नाकाम करने में सफल रहे। 27वें मिनट में पहला गोल करने के दो मिनट बाद ही ब्लास्टर्स अपनी लीड दोगुनी करने के करीब थे लेकिन अमरिंदर सिंह की मुस्तैदी मुम्बई के काम आई और वह मैच में बना रहा। इंजुरी टाइम तक जाते-जाते मैदान में गरमाहट बढ़ गई, इसी कारण लगातार कई फाउल हुए औऱ दोनो टीमों के एक-एक खिलाड़ी को पीला कार्ड मिला। दूसरे हाफ की शुरुआत धमाकेदार हुई।

मुम्बई ने 47वें मिनट में गोल करते हुए स्कोर 1-1 कर दिया। मुम्बई के लिए यह गोल बिपिन सिंह ने किया। बिपिन ने इस सीजन का अपना दूसरा गोल करते हुए मैच में मुम्बई की वापसी सुनिश्चित की। 50वें मिनट में राहुल केपी ने ब्लास्टर्स के लिए मौका बनाया लेकिन उनका कमजोर शाट अमरिंदर सिंह को छका नहीं सका।

60वें मिनट में समद के क्रास पर राहुल केपी ने हेडर के जरिए गोल करना चाहा लेकिन अमरिंदर ने एक बार फिर उनका हमला नाकाम कर दिया। 65वें मिनट में कोस्टा नामोइनेस ने एक बड़ी गलती कर दी। उनकी इस गलती पर रेफरी ने ब्लास्टर्स के खिलाफ पेनाल्टी दिया। इस पेनाल्टी पर 67वें मिनट में गोल करते हुए लाफोंड्रे ने मुम्बई को 2-1 से आगे कर दिया।

69वें मिनट में ब्लास्टर्स के जुआंदे को पीला कार्ड मिला औऱ फिर 73वें तथा 74वें मिनट में उसने दो बदलाव किए। 85वें मिनट में मुम्बई सिटी एफसी ने दो बदलाव किए। 88वें मिनट में मुम्बई के मंदार राव को पीला कार्ड मिला और फिर 89वें मिनट में ब्लास्टर्स ने समद को बाहर कर सित्यासेन सिंह को अंदर लिया। 90वें मिनट में बोउमोस के पास मुम्बई की लीड 3-1 करने का मौका मिला था लेकिन वह चूक गए। इस हमले के बाद बोउमोस को बाहर कर दिया गया। इसके बाद मुम्बई की टीम इंजुरी टाइम में भी अपने स्कोर की रक्षा करने में सफल रही।

admin